अक्षरा ने कहा कि कंडोम खरीदने वाली महिलाएं सेफ सेक्स कर रही थीं।फिल्म को एक ऐसी फिल्म के रूप में सराहा गया जो महिला इच्छाओं को चित्रित करने का साहस करती है।

Akshara questions taboo about female buying condoms in her latest film

यह फिल्म हमारे समाज में महिला इच्छाओं पर बनी वर्जना को तोड़ने की कोशिश करती है।इस फिल्म में मुख्य भूमिका निभाने वाली अक्षरा हासन वर्जनाओं पर सवाल उठाती हैं।

अक्षरा कंडोम को लेकर लगे कलंक पर सवाल उठाती नजर आ रही हैं.अक्षरा ने अपने एक इंटरव्यू में कहा था कि बहुत से लोग सोचते हैं कि महिलाओं को अपनी कामुकता पर नियंत्रण रखना चाहिए।अक्षरा ने कहा कि यह संभव नहीं था क्योंकि महिलाएं भी इंसान थीं।अक्षरा ने कहा कि वह सुपरमार्केट में कंडोम खरीद सकती हैं।अक्षरा ने कहा कि महिलाओं के लिए कंडोम का इस्तेमाल ठीक है क्योंकि वे सिर्फ सुरक्षित सेक्स कर रही थीं।

अक्षरा ने असल जिंदगी में सैनिटरी नैपकिन जैसे विषयों पर चर्चा की है।वह कहती हैं कि सैनिटरी नैपकिन महिलाओं को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

इस फिल्म ने अभिनेत्री को कॉमेडी के साथ प्रयोग करने का मौका दिया और वह इसका हिस्सा बनने के लिए बहुत उत्साहित थीं।फिल्म एमेली जैसे कुछ संदर्भों ने अक्षरा को पवित्रा की भूमिका के लिए तैयार करने में मदद की।अक्षरा ने कहा कि उन्होंने सेट का खूब लुत्फ उठाया।उसने कहा कि उसे उषा उत्थुप के साथ जाम करना पसंद है।अक्षरा और उषा फिल्म का हिस्सा हैं।

राजा राममूर्ति दास राइटन और डेयरडेविल ए पीस कलंदु "डर मैडम शेम कल्टिवेशन"।ट्रेंडलाउड ने फिल्म को नियंत्रित किया है।