कैसे बने चार्टर्ड अकाउंटेंट How to become chartered accountant in India in Hindi?

कैसे बने चार्टर्ड अकाउंटेंट How to become chartered accountant in India in Hindi?

क्या आप चार्टर्ड अकाउंटेंट में करियर बनाना चाहते हैं ? लेकिन नहीं जानते चार्टर्ड अकाउंटेंट क्या है, CA कैसे बने, CA की तयारी कैसे करें? तो ये आर्टिकल आपको चार्टर्ड अकाउंटेंट से जुडी सारे सवालों के जवाब देगा।

Table of Contents

चार्टर्ड अकाउंटेंट क्या है? What is Chartered Accountant?

चार्टर्ड अकाउंटेंट एक एकाउंटिंग प्रोफेशनल को दिया जाने वाला एक पद है, जिसे ये पद कई सारे परीक्षाओं में उत्तीर्ण होने के बाद मिला हुआ होता है। और ये पद जिस ब्यक्ति को प्राप्त रहता है उन्हें चार्टर्ड अकाउंटेंट कहते हैं और ऐसे ब्यक्ति किसी भी अनुष्ठान या कंपनी के लिए टैक्स ऑडिट और अकाउंट मैंटेन के लिए जिम्मेदार होते हैं। और उनकी की हुयी ऑडिट को भारत के सेल्स टैक्स बिभाग प्रामाणिक डॉक्यूमेंट के तौर पर ग्रहण भी करते हैं। आम शब्दों में कहने जाए किसी व्यवसाय से संबंधित लेखांकन और कराधान के मामलों की देखभाल करने के लिए योग्य है, जैसे फ़ाइल कर रिटर्न, लेखा परीक्षा वित्तीय विवरण और व्यवसाय प्रथाओं, वित्तीय रिपोर्ट और दस्तावेजों को तैयार करने और समीक्षा करने, निवेश के रिकॉर्ड को बनाए रखना शामिल है।

इसके साथ साथ एक चार्टर्ड अकाउंटेंट ग्राहकों को सलाहकार सेवाएं देने के लिए भी योग्य है जिसमें कंपनियां और व्यक्ति शामिल हैं।

चार्टर्ड अकाउंटेंट कैसे बनते हैं How to become chartered accountant

यदि आप सर्टिफाइड चार्टर्ड अकाउंटेंट बनना चाहते हैं तो इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) द्वारा डिजाइन किए गए तीन स्तरों के प्रशिक्षण को पूरा करना होता है। ICAI, एक वैधानिक निकाय है जो भारत में चार्टर्ड अकाउंटेंसी के पेशे को नियंत्रित और बनाए रखता है। शिक्षा और प्रशिक्षण की योजना के तहत, उम्मीदवार या तो फाउंडेशन कोर्स रूट या डायरेक्ट एंट्री रूट के माध्यम से चार्टर्ड अकाउंटेंसी कोर्स कर सकते हैं। फाउंडेशन कोर्स बारहवीं कक्षा के बाद पाठ्यक्रम में प्रवेश बिंदु है, जबकि प्रत्यक्ष प्रवेश उन लोगों के लिए है जिन्होंने स्नातक स्तर की पढ़ाई पूरी कर ली है।

Related Articles( Also Read )

कंपनी सेक्रेटरी क्या है,कंपनी सेक्रेटरी में करियर How to become a company secretary and course details in Hindi

डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर कैसे बने How to become a district collector in Hindi?

ICAI के बारेमे जानकारी

इंस्टिट्यूट ऑफ़ चार्टर्ड एकाउंटेंट्स ऑफ़ इंडिया (ICAI) भारत में CA के परीक्षा का आयोजन करते हैं। और जो आवेदक सफलता पूर्ण इन ३ पर्याय के कोर्स को सम्पूर्ण करते हैं उनको चार्टर्ड अकाउंटेंट के पद से योग्य घोसित करते हैं।

ICAI द्वारा आयोजित परीक्षाएं हैं :

  1. Common Proficiency Test (CPT)
  2. Intermediate (Integrated Professional Competence) Examination
  3. Final Examination

हर साल नवंबर और दिसंबर के महीनों में इंटरमीडिएट और फाइनल एग्जामिनेशन के आयोजन होते हैं।

चार्टर्ड अकाउंटेंट के लिए योग्यता CA eligibility criteria

चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए, उम्मीदवार को विभिन्न स्तरों के रूप में प्रशिक्षण और परीक्षा की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है, जिसका संचालन इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) करता है।

चार्टर्ड अकाउंटेंट के लिए योग्यता CA eligibility criteria

चार्टर्ड अकाउंटेंट बनने के लिए, उम्मीदवार को विभिन्न स्तरों के रूप में प्रशिक्षण और परीक्षा की प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है, जिसका संचालन इंस्टीट्यूट ऑफ चार्टर्ड अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) करता है।

Eligibility criteria for Foundation Route:

फाउंडेशन की परीक्षा में उपस्थित होने के लिए उम्मीदवार को बारहवीं कक्षा उत्तीर्ण और चार महीने की अध्ययन अवधि पूरी करनी आवश्यक है । उम्मीदवार को अध्ययन अवधि के चार महीने के लिए बोर्ड ऑफ स्टडीज के साथ पंजीकरण (registration) करना होगा।

Eligibility criteria for Direct Entry Route:

इंटरमीडिएट पाठ्यक्रम में सीधे प्रवेश के लिए, उम्मीदवार में निम्न लिखित योग्यता होना आवश्यक है :

कॉमर्स ग्रेजुएट्स / पोस्ट-ग्रेजुएट्स (न्यूनतम 55% अंकों के साथ) या अन्य स्नातक / पोस्ट-ग्रेजुएट्स (न्यूनतम 60% अंकों के साथ) किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से (ओपन यूनिवर्सिटी सहित) / इंटरमीडिएट स्तर पर भारत के इंस्टीट्यूट ऑफ कंपनी सेक्रेटरीज (ICSI) और इंस्टीट्यूट ऑफ कॉस्ट अकाउंटेंट्स ऑफ इंडिया (ICAI) के उम्मीदवार उत्तीर्ण हुए उम्मीदवार।

चार्टर्ड अकाउंटेंट कोर्स Chartered accountant course

सीए पाठ्यक्रम को तीन स्तरों में विभाजित किया गया है: फाउंडेशन स्तर, इंटरमीडिएट स्तर और अंतिम स्तर

Foundation Stage

  • Business Laws & Business Correspondence and Reporting
  • Business Mathematics and Logical Reasoning & Statistics
  • Business Economics & Business and Commercial Knowledge

Intermediate Stage

  • Paper 1: Accounting
  • Paper 2: Corporate and other Laws
  • Part 1: Company Law
  • Part 2: Other Laws
  • Paper 3: Cost and Management Accounting
  • Paper 4: Taxation
  • Section A: Income Tax Law
  • Section B: Indirect Taxes

Final Stage

  • Paper 1: Financial Reporting
  • Paper 2: Strategic Financial Management
  • Paper 3: Advanced Auditing and Professional Ethics
  • Paper 4: Corporate and Economic Laws
  • Part I: Corporate Laws
  • Part II: Economic Laws
  • Paper 5: Strategic Cost Management and Performance Evaluation
  • Paper 6: Elective Paper
  • List of Elective Papers:
  • 6A Risk Management
  • 6B Financial Services and Capital Markets
  • 6C International Taxation
  • 6D Economic Laws
  • 6E Global Financial Reporting Standards
  • 6F Multi-disciplinary Case Study
  • Paper 7:Direct Tax Laws & International Taxation
  • Part 1:Direct Tax Laws
  • Part 2: International Taxation
  • Paper 8: Indirect Tax Laws
  • Part 1: Goods and Services Tax
  • Part 2: Customs and FTP

About The Author

श्रीकांत पाढ़ी

नमस्कार, मैं इस साइट का फाउंडर, एडमिन और ऑथर हूँ। मैं इलेक्ट्रॉनिक्स और टेलीकम्यूनिकेशन इंजीनियरिंग में B.Tech डिग्री से ग्रेजुएट हूँ और मैं एक सेल्फ एम्प्लॉयड हूँ। मैं ब्लॉग्गिंग, यूट्यूब, वीडियो एडिटिंग, VFX, वेब डेवलप, एप्प डेवलप और स्क्रीनराइटिंग करता हूँ। मुझे ज्ञान बाँटना पसंद है । मैं हिंदी और इंग्लिश में आर्टिकल लिखता हूँ।

कैसे संपर्क करें?

निचे दिए गए लिंक पर संपर्क कर सकते हैं। (Follow Me!)